Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » Featured » सीनियर सिटीजन दिवस: इन बचत स्कीम से बुजुर्गों का भविष्य होगा बेहतर (Senior Citizen Day: Senior Citizen Best Savings Scheme)

सीनियर सिटीजन दिवस: इन बचत स्कीम से बुजुर्गों का भविष्य होगा बेहतर (Senior Citizen Day: Senior Citizen Best Savings Scheme)

  • द्वारा
सीनियर सिटीजन दिवस

हम सभी के लाइफ में हमारे माता पिता व बुजुर्ग काफी अहम स्थान रखते है, जो हमें ऊंचाई में पहुँचने के लिए नींव की तरह मदद करते हैं। सीनियर सिटीजन दिवस जो कि 21 अगस्त को मनाया जाता है, यह दिन बुजुर्गों के लिए होता है। लेकिन इस भागदौड़ भरी लाइफ में किसी को इतना समय नहीं मिल पाता है कि वो इनपर ध्यान दे सके। सीनियर सिटीजन किसी भी परिवार के वो गहरे जड़ होते है, जिसपर पूरा परिवार टिका हुआ होता है।

कब से हुई सीनियर सिटीजन दिवस की शुरूआत ?

हर साल 21 अगस्त को नेशनल सिटीजन डे मनाया है। इसकी शुरुवात अमेरिका में हुई थी और अभी अमेरिका के बाद इसे ज्यादातर देशों में मनाया जाने लगा। इस दिन को खास बनाने के लिए बहुत से कार्यक्रम आयोजित किये जाते है। इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य बुजुर्ग वर्ग को सम्मान देना है। इस दिन के द्वारा उन्हें स्पेशल फील कराया जाता है और साथ में उनके द्वारा किये गए कार्य को याद किया जाता है।

साल 1988 में अमेरिका के राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन ने 21 को नेशनल सीनियर सिटीजन डे घोषित किया। वहां यह दिवस बुजुर्गों को प्रभावित करने वाले सामाजिक, स्वास्थ्य और आर्थिक समस्याओं को सबके सामने जागरूकता लाने के लिए यह दिन मनाया जाता है।

यह भी पढ़ें: इन स्मार्ट तरीकों से करेंगे निवेश तो मजबूत होगी वित्तीय स्थिति

जिस तरह से माता पिता हमारा भविष्य संवारने के लिए इतना कुछ करते हैं उसी तरह उनके बुजुर्ग होने पर हमें भी उनका ख्याल रखना चाहिए। आज हम आपको सीनियर सिटीजन दिवस के इस विशेष अवसर पर कुछ ऐसे स्कीम के बारे में बताएंगे जिसे जानकर आप भी अपने बुजुर्गों का भविष्य सुरक्षित कर सकते हैं। दरअसल हम जिन स्कीम की बात कर रहे हैं वो केंद्र सरकार द्वारा प्रस्तावित है। केंद्र ने ‘वरिष्ठ नागरिक बचत योजना’ बनाया जो कि 60 साल से अधिक उम्र के भारतीय नागरिकों के लिए बनाई गई है।]

इतनी राशि कर सकते हैं जमा

आप सोच रहे होंगे कि इस योजना के लिए कम से कम व ज्यादा से ज्यादा कितनी राशि जमा की जा सकती है तो बता दें कि इसमें न्यूनतम 1000 रु. की एकमुश्त राशि जमा करने की अनुमति है। 1000 रु. से ज्यादा की राशि 1000 रु. के गुणकों जमा करनी होगी। SCSS में राशि जमा कराने की अधिकतम सीमा 15 लाख है।

इतने साल बाद होती है मैच्योरिटी

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में जमा की गई राशि खाता खोलने की तारीख से 5 साल के बाद मैच्योर होती है। वहीं खाताधारक के पास मैच्योर होने के बाद खाते की समय सीमा 3 साल तक बढ़ाने का भी ऑप्शन रहता है, यह ऑप्शन फिल्हाल सिर्फ एक बार उपलब्ध है और इसका अनुरोध SCSS खाते की मैच्योरिटी के 1 वर्ष के भीतर किया जाना चाहिए।

ऑनलाइन करें आवेदन

यह स्कीम भारतीय डाक के दफ़्तरों के साथ-साथ ऑनलाइन भी उपलब्ध हैं, अगर आप भारतीय डाक में अपना SCSS खाता खोलना चाहते हैं, तो आप आधिकारिक भारतीय डाक की वेबसाइट से (Senior Citizen Best Savings Scheme) SCSS आवेदन फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं।

इन बातों का रखें विशेष ध्यान

सबसे पहले तो यह योजना 60 वर्ष या इससे अधिक आयु के किसी भी व्यक्ति के लिए उपलब्ध है, वहीं जो 55 वर्ष के हैं लेकिन वो 60 वर्ष से कम उम्र के हैं, वे भी वरिष्ठ नागरिक बचत योजना के लिए आवेदन करने के योग्य हैं। लेकिन इसके लिए वे लागू रिटायर्मेंट या वीआरएस नियमों के तहत रिटायर हुए हों। क्योंकि ऐसे मामलों में, खाता रिटायर्मेंट के लाभों की प्राप्ति के 1 महीने के भीतर खुल जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: अपने बैंक खातों को हैक होने से ऐसे बचाएं (Protect Your Bank Accounts from Hackers)

वहीं इसके अलावा यह योजना उन रिटायर रक्षा कर्मियों के लिए भी उपलब्ध है जो उपरोक्त आयु के ना भी हो, लेकिन यह अन्य नियमों और शर्तों को पूरा करते हों। गैर-भारतीय नागरिक और भारतीय मूल के व्यक्ति के लिए वरिष्ठ नागरिक बचत योजना खाता खोलने की अनुमति नहीं हैं। इसके अलावा, हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के सदस्य भी इन नियमों के तहत खाता नहीं खोल सकते हैं।

वित्तीय संबंधी समस्या के लिए सलाहकार यश धानुका से करें संपर्क

अगर आपको भी वित्तीय काउंसलर की आवश्यकता है तो Spark.live पर मौजूद यश धानुका आपके लिए बेहतर सलाहकार साबित हो सकते हैं। यश धानुका भारत के सबसे बड़े वाणिज्यिक निजी बैंक, आईसीआईसीआई में पांच साल का अनुभव प्राप्त है। यश धानुका से आप कर और निवेश जैसी समस्याओं पर पर्सनल सलाह ले सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *