Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » जीवनशैली और रहन-सहन » रिश्तों को बचाने के लिए कितना जरूरी है रिलेशनशिप काउंसलर की सलाह

रिश्तों को बचाने के लिए कितना जरूरी है रिलेशनशिप काउंसलर की सलाह

  • द्वारा
Relationship counsellor

रिश्ता बनाना जितना आसान होता है निभाना उतना ही मुश्किल। जीवन में कई बार ऐसी परिस्थितियां आती हैं जब हर रिश्ते को कभी न कभी मुश्किल वक़्त से गुज़ारना पड़ता है। ध्यान यह देना है कि हम इन समस्याओं का सामना कैसे करें ताकि हमारे रिश्ते पर ग्रहण न लग पाए। आज हम विशेषरूप से बात करेंगे पति पत्नी व कपल्स के रिश्तों में आई समस्याओं की क्योंकि इनकी संख्याएं आजकल तेजी से बढ़ रही है।

आज के समय में लोग शादी तो कर लेते हैं लेकिन इनके बीच वक्त के साथ प्यार में कमी आने लगी है और नतीजा यह कि सालों रिश्ते में टिके रहने के बाद एक दिन तलाक लेने की नौबत भी आ जाती है। लेकिन यह भी सच है कि रिश्तों में कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो इसे निभाने के लिए पूरी उम्र भी कम लगने लगेगी।

लॉकडाउन का समय चल रहा है इस दौरान आपको कोरोना वायरस की खबरों के साथ एक और खबर सुनने को मिली होंगी जो थी कपल्स के बीच मनमुटाव और झगड़े की। एकाएक लॉकडाउन होने के कारण लोग घरों में बंद हो गए जिसकी वजह से हर किसी को मानसिक तनाव भी महसूस हो रहा है और यही वजह है कि कपल के बीच झगड़े या दूरियां आने लगी है। लेकिन क्या आपको पता है कि सालों तक किसी रिश्ते में रहने के बावजूद ऐसा क्यों होने लगा ? आखिर क्या है इसके पीछे की वजह ?

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कई बार व्यक्ति जाने-अनजाने कुछ ऐसी बातें कह देता है जिसकी वजह से आपके पार्टनर को हर्ट होता है। ऐसे में इससे बचने के लिए जरूरी है कि कुछ ऐसा न करें जिससे आपका रिश्ता कमजोर हो जाए। इसके अलावा लॉकडाउन का सबसे ज्यादा बुरा असर महिलाओं की जिंदगी पर ही पड़ा है, क्योंकि दुनिया भर में महिलाओं के खिलाफ हो रही घरेलू हिंसा के मामलों में काफी इजाफा हुआ है। पर क्या यह सही है, ऐसे हम अपने रिश्ते को निभा सकते हैं? इसका जवाब है -नहीं।

बिगड़े रिश्तों को बचा सकते हैं रिलेशनशिप काउंसलर की सलाह

कहा जाता है कि पति-पत्नी के रिश्ता सभी रिश्तों से अलग होता है, इस रिश्ते में बहुत सी खट्टी-मीठी बातें होती हैं। पहले के जमाने में तो पति-पत्नी दोनों एक दूसरे को बिना जाने अपना लेते थें और फिर सारी जिंदगी एक दूसरे के लिए जी लेते थें। आज भी लोग ऐसा ही करते हैं पर एक दूसरे को जानकर समझकर शादी करते हैं और जिंदगी के हर एक अच्छे बुरे लम्हे को साथ मिलकर जीते हैं।

वो कहते हैं न कि कोई भी रिश्ता तभी आसानी से निभता है, जब दोनों के बीच समन्वय हो और जब यह बैलेंस गड़बड़ाने लगता है तब आपको एक रिलेशनशिप काउंसलर से सलाह की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन भारत में अक्सर हमें यह देखने को मिलता है कि लोग एक रिलेशनशिप काउंसलर के पास तभी जाते हैं जब रिश्ता टूटने की कगार पर आ जाता है। वो दोनों एक दूसरे से तलाक लेने की कगार पर रहते हैं, और ऐसे में चीजों को काबू में करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

इसलिए आप अपने रिश्ते को बचाना चाहते हैं तो समस्याएं जब उत्पन्न होती हैं उसी समय सजग हो जाएं और एक रिलेशनशिप काउंसलर से संपर्क करें, इसमें हमारे नेटवर्क से जुड़ी रिलेशनशिप काउंसलर प्रिया सिंह आपकी काफी मदद कर सकती हैं।प्रिया सिंह एक प्रोफेशनल रिलेशनशिप काउंसलर हैं जो कि पिछले साल से ही कई लोगों की काउंसलिंग कर रही हैं और उनके रिलेशनशिप की समस्या को सुलझाकर उनके रिश्ते का एक नया आयाम दिया है। यह विशेषरूप से कपल थेरेपी में रुचि रखती है। प्रिया सिंह के ऑनलाइन सत्र में आप उनसे अपने रिश्ते की समस्या का समाधान पा सकते हैं। ये आपको कुछ ऐसे तरीके बताएंगी जिसेअपनाकर आप जीवन और संबंधों का बेहतर आनंद ले सकेंगे।

इससे संबंधित विस्तृत जानकारी के लिए यहां क्लिक करें !

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *