Read Home » हिंदी लेख पढ़ें » जीवनशैली और रहन-सहन » रिश्तों में भावनात्मक दुर्व्यवहार के क्या हैं संकेत, कैसे पाएं छुटकारा ?

रिश्तों में भावनात्मक दुर्व्यवहार के क्या हैं संकेत, कैसे पाएं छुटकारा ?

  • द्वारा
emotional abuse

रिश्ता कोई भी हो मगर जब तक उसमे भावनात्मक रूप से जुड़ाव ना हो उस रिश्ते में ज्यादा आवश्यक होता है क्योंकि अगर किसी रिश्ते में भावनात्मक रूप से जुड़ाव नहीं होता है तो वो रिश्ता महज दिखावे मात्र के लिए होता हैं। वैसे भी आज के समय में रिश्तों की अहमियत काफी कम होते जा रही है जो कि सभी पाटनर्स के बीच देखने को मिल रहा है।

आज हम बात करेंगे रिश्ते में होने वाले शोषण की, जाहिर सी बात है कि शोषण के बारे में बात करते समय हमारे ज़ेहन में सिर्फ शारीरिक शोषण का ख्याल ही आता है लेकिन शारीरिक शोषण के अलावा भावनात्मक शोषण भी कुछ चीज होती है जिसे इमोशनल एब्यूज कहा जाता है। यह तब होता है जब कोई अपने शब्दों से या गुस्सा दिखाकर, धोका देकर या बुरे व्यवहार से आपको तकलीफ पहुंचाता है, या आप पर आपना नियंत्रित करने की कोशिश करता है।

इमोशनल एब्यूज सबसे ज्यादा खतरनाक होता है क्योंकि यह आपके मन की गहराई तक असर डालता है। वैसे यह सिर्फ रिश्तों में ही नहीं बल्कि बच्चों के साथ भी होता है, जिसमें बच्चे को कई बार डराकर या धमकाकर ब्लैकमेल किया जाता है और भावुक होकर बच्चे चुप रह जाते है।

यह भी पढ़ें : रिश्तों को बचाने के लिए कितना जरूरी है रिलेशनशिप काउंसलर की सलाह

हालाँकि यह कतई आवश्यक नहीं है कि इमोशनल एब्यूज सिर्फ पुरुष ही कर सकता है यह महिला साथी द्वारा भी किया जा सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसे संकेत के बारे में बताने जा रहे हैं जो यह जानने में आपकी मदद करेंगे कि आपके साथ इमोशनल एब्यूज हो रहा है और अगर हो रहा है तो मतलब वक्त रहते आपको सतर्क हो जाना चाहिए।

रिश्तों में इमोशनल एब्यूज के संकेत

गुस्‍सा होना 

पार्टनर का आपस में प्यार करना आम बात है और ऐसा होना भी चाहिए मगर प्यार करते करते अचानक से किसी बात पर नाराज हो जाना या गुस्सा करना और फिर कुछ ही पल बाद जब सामने वाला एकदम सहम जाये तो शांत हो जाना। यह एक तरह से इमोशनल एब्यूज का संकेत हैं। आमतौर पर लोग ऐसा सामने वाले पर अपना भय दिखने के लिए और आप पर काबू पाने के लिए करते हैं।

गोपनीयता पर आक्रमक होना

कोई इंसान जब आपको भावनात्मक रूप से ठेस पहुँचाना चाहता है तो वो कभी भी आपकी निजता का सम्मान नही करता है। ऐसे लोग हमेशा आपके गोपनीयता के पीछे पड़े रहते हैं जैसे अपना पासवर्ड बताओ, पिन बताओ, अपना पर्स दिखाओ, आदि। लगातार इस तरह की हरकतें कर के आपका साथी आपके ऊपर एक तरह का दबाव बनाना चाहता है। कहाँ जा रहे है किस्से मिल रहे हैं इस तरह की तमाम जानकारी रखना इमोशनल एब्यूज का सख्त उदाहरण है।

यह भी पढ़ें : टॉक्सिक रिलेशनशिप के होते हैं ये लक्षण, गलती से भी न करें अनदेखा

बेवजह मजाक उड़ाना

हंसी मजाक तो हर एक पार्टनर के बिच होता है और यह जरूरी भी है क्योंकि किसी भी रिश्ते में सिर्फ कम और जिम्मेदारी का होना मतलब तनाव और हंसी मजाक ही एक मात्र रास्ता है इस तनाव से बचे रहने का। मगर जब आपका साथी बिना किसी खास वजह के आपका मजाक उडाये और कई बार ऐसा करे तो समझ लीजिये कि वो आपके साथ भावनात्मक खिलवाड़ कर रहा है यानी कि एक तरह से इमोशनल एब्यूज।

रिश्तों में नियंत्रण

इमोशनल एब्यूज की एक वजह पार्टनर को अपने नियंत्रण में रखने की इच्छा भी होती है। जी हां कई बार ऐसे लोग अपने साथी के साथ समानता का व्यवहार नहीं करते हैं। वे खुद को कहीं ज्यादा अहमियत देते हैं। ऐसे लोगों की मानसिकता प्रभुत्व जमाने वाली होती है। ऐसे लोग अपनी फैमिली के लोगों के साथ-साथ दोस्तों के साथ भी अच्छा व्यवहार नहीं करते।

रिश्तों में किसी भी तरह की समस्या क्यों न हो, आप चाहे तो मनोवैज्ञानिक प्रिया सिंह से संपर्क कर सकते हैं। ये एक रिलेशनशिप काउंसर हैं जो रिश्तों में आई समस्या को बखूबी सुलझा सकती हैं। ज्यादा जानकारी के लिए यहां क्लिक करेंं

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *